बढ़े हुए SGOT व SGPT को कम करने के उपाय...

बढ़े हुए SGOT व SGPT को कम करने के उपाय…

बढ़े हुए लिवर एंजाइम SGOT व SGPT के स्तर को कैसे कम करें?

बढ़े हुए SGOT व SGPT को कम करने के उपाय: एक स्वस्थ जिगर (LIVER) एक स्वस्थ शरीर की आधार रेखा है।

लिवर शरीर में बहुत सारे कार्य करता है और रक्त से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालता है और चयापचय (metabolism) में भी सहायता करता है।
एक स्वस्थ जीवन शैली की आदत को अपनाने से आप लिवर को स्वस्थ रख सकते है। स्वस्थ जीवनशैली अपनाकर आप खुद को फिट रख सकते हैं और अपने लिवर को बीमारियों से भी मुक्त रख सकते हैं।

हमारे शरीर में शराब और दवाओं सहित सब कुछ हमारे लिवर द्वारा फ़िल्टर किया जाता है। तो यह अपने कार्यों को ठीक से करने के लिए शरीर का एक महत्वपूर्ण अंग है।

इसलिए अपने जिगर की निगरानी करने से आपको कई अवांछित जटिलताओं और उपचारों से बचने में मदद मिल सकती है क्योंकि रोकथाम हमेशा इलाज से बेहतर होता है।

एसजीओटी (AST) और एसजीपीटी(ALT)हेपेटोसाइट्स द्वारा संश्लेषित एंजाइमों के प्रकार हैं जिन्हें यकृत कोशिकाएं भी कहा जाता है।

एसजीओटी और एसजीपीटी के स्तर में वृद्धि लिवर सेल की चोट का एक स्पष्ट संकेत है, जिसका नियमित स्वास्थ्य जांच द्वारा निदान किया जा सकता है।


आपके लिवर को स्वस्थ रखने और साथ ही बढ़े हुए SGOT और SGPT को कम करने के उपाय …

1. आप रोजाना जो कुछ भी खाते हैं उसका सही से ध्यान दें…

१. विटामिन डी हेपेटोसाइट्स या यकृत कोशिकाओं के नुकसान को रोकने में सहायता करता है और एसजीपीटी के स्तर को भी कम करता है इसलिए आपको अपने आहार में विटामिन डी की खपत में वृद्धि करनी चाहिए।

  • मशरूमबढ़े हुए SGOT व SGPT को कम करने के उपाय...
  • संतरे
  • सोया दूध
  • दृढ़ अनाज (Fortified cereals)
  • सेब
  • अंडे
  • दुग्ध उत्पाद
  • टोफू
  • हरे पत्ते वाली सब्जियां
  • कॉड लिवर तेल

सीप (Oysters) विटामिन डी के अच्छे स्रोत हैं।इनका सेवन नियमित रूप से करना चाहिए।

इसे भी पढ़े “बवासीर का उपचार इन हिंदी”


२. लिवर को स्वस्थ रखने व उसके कामकाज में सुधार के लिए सबसे अच्छा पोषक तत्वों से भरपूर खाद्य पदार्थ (nutrient-rich foods) व जैविक पौधे आधारित आहार (organic plant-based diet)  है। हमेशा अधिक सोडियम और नमक युक्त खाद्य पदार्थों के सेवन से परहेज करें।

“बढ़े हुए SGOT व SGPT को कम करने के उपाय” पढ़ते रहें..

Also read-

“मलेरिया-कारण-लक्षण-रोकथाम व् उपचार”


बढ़े हुए SGOT व SGPT को कम करने के उपाय...
अनार

३. फलों और सब्जियों का सेवन बढ़ाना चाहिए…
विटामिन और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर सब्जियां और फल जैसे…

  • पपीता
  • कीवी
  • गाजर
  • अनार

शिमला मिर्च और पालक आपके लिवर की सेहत के लिए बहुत अच्छे होते हैं।


४. जंक और ज्यादा फ्राई खाने से बचना चाहिए…

आपको हमेशा मांसाहारी और उच्च वसा वाले खाद्य पदार्थों जैसे…

बढ़े हुए SGOT व SGPT को कम करने के उपाय...

  • भेड़,बकरी का मांस
  • सुअर का मांस
  • मुर्गी
  • गौमांस
  • पनीर

कार्बोनेटेड पेय, बेकन और मक्खन इतियादी के सेवन से बचना चाहिए।


५. धूम्रपान छोड़ें और मादक पेय पदार्थों को प्रतिबंधित करें…

बढ़े हुए SGOT व SGPT को कम करने के उपाय...

लिवर के लिए सबसे जहरीला और हानिकारक उत्पाद अल्कोहल है।
किसी भी रूप में बहुत अधिक निकोटीन का सेवन आपके रक्तप्रवाह में अमोनिया और निकोटीन जैसे विषाक्त पदार्थों को अवशोषित कर सकता है।
इस प्रकार के विषैले तत्वों को रक्त से छानना लिवर के लिए बहुत कठिन होता है और इसके कारण लिवर दिन-ब-दिन कमजोर और अस्वस्थ हो जाता है।

Also read- “थायराइड रोग के कारण, लक्षण, निदान व् उपचार”

Must read- “low blood pressure कारण-लक्षण-नुक्सान-उपचार के विकल्प”


६. स्व-दवा (Self-medication) करने से बचना चाहिए…

लिवर के लिए दर्द निवारक या स्टेरॉयड आदि दवाओं को मेटाबोलाइज करना बहुत मुश्किल होता है।
इसलिए आपको हमेशा ऐसी दवाएं लेने से बचना चाहिए जो एक योग्य चिकित्सक द्वारा निर्धारित नहीं हैं क्योंकि ये दवाएं आपके लिवर के स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचा सकती हैं और एसजीओटी और एसजीपीटी के स्तर को बढ़ा सकती हैं।


2. नियमित व्यायाम…

बढ़े हुए SGOT व SGPT को कम करने के उपाय...

लिवर को स्वस्थ बनाए रखने के लिए नियमित व्यायाम करना बहुत जरूरी है।
यह आपके लिवर पर दबाव कम करता है और इसके ऊर्जा स्तर को भी बढ़ाता है।
नियमित व्यायाम मोटापे को नियंत्रित करने में भी मदद करता है जो कि लिवर की बीमारियों जैसे फैटी लीवर और एसजीओटी और एसजीपीटी जैसे लीवर एंजाइम के ऊंचे स्तर के लिए एक प्रमुख जोखिम कारक है।


3. नियमित स्वास्थ्य जांच…

ऊंचा एसजीपीटी, एसजीओटी स्तर और लिवर की समस्याएं हमेशा लक्षण नहीं दिखाती हैं, इसलिए जब तक आपको किसी भी तरह कि जिगर की क्षति का एहसास नहीं होता है, तब तक बहुत देर हो चुकी होती है।

उपचार की बढ़ती लागत के साथ साथ इसके परिणाम और कई मामलों में हताहत करने वाले हो सकते हैं।
कोई भी व्यक्ति अपने एसजीओटी और एसजीपीटी स्तरों को एक पूर्ण शरीर जांच के साथ जान सकता है जिसमें एलएफटी (लिवर फंक्शन टेस्ट) जैसे रक्त परीक्षण शामिल हैं।

SGOT और SGPT लिवर एंजाइम हैं जो हेपेटोसाइट्स द्वारा लिवर में बनते हैं। SGOT या SGPT का ऊंचा स्तर आमतौर पर लिवर की किसी भी प्रकार की बिमारी का संकेत हो सकता है।

एक विशेष रूप से डिज़ाइन किया गया अच्छा आहार और एक स्वस्थ जीवन शैली का पालन करना एक स्वस्थ लिवर पाने और SGOT और SGPT के स्तर को कम करने का सबसे अच्छा तरीका है।
आपको हमेशा अपने परीक्षण किसी विश्वसनीय स्वास्थ्य संस्थान से करवाने चाहिए।

Also read-

“टाइफाइड कारण, लक्षण, बचाव व् उपचार के सारे विकल्प”

“बढ़े हुए SGOT व SGPT को कम करने के उपाय” आगे पढ़े…


दवाइयाँ…

कुछ दवाएं जिगर की बीमारियों के इलाज के लिए बहुत प्रभावी हैं और एसजीओटी और एसजीपीटी के स्तर को भी कम करती हैं और दुनिया में लगभग हर डॉक्टर द्वारा जिगर विकारों के इलाज के लिए इनका उपयोग किया जाता है। उदाहरण हैं…

  • Ursodeoxycholic एसिड 150mg और 300mg- एक प्रकार की खाने वाली दवा जिसका ब्रांड नाम UDILIV 150/300 मिलीग्राम दुनिया भर में उपलब्ध है।

    बढ़े हुए SGOT व SGPT को कम करने के उपाय...
    UDILIV 150/300

  • Tab/Syp. Liv 52 by Himalaya एक आयुर्वेदिक दवा है जो लिवर की बीमारियों के इलाज के लिए बहुत प्रभावी है और आप इसे ऑनलाइन या नजदीकी मेडिकल स्टोर से खरीद सकते है ये दवा लिवर एंजाइम के स्तर को प्रभावी रूप से कम करती है।
    बढ़े हुए SGOT व SGPT को कम करने के उपाय...
    liv 52 ds

     

  • Capsules/Syp. Amlycure DS by Aimil भी व्यापक रूप से उपलब्ध लिवर की बीमारियों के इलाज के लिए एक प्रसिद आयुर्वेदिक दवा है।
  • रेकवेग आर -7 लिवर और गॉलब्लैडर ड्रॉप्स– एक प्रकार की होम्योपैथिक दवा भी एसजीओटी और एसजीपीटी के स्तर को कम करने के लिए बहुत प्रभावी है।

    बढ़े हुए SGOT व SGPT को कम करने के उपाय...
    रेकवेग आर -7

  • Folic acid supplements or tablets- 800 micro-grams or 0.8 milligrams/day recommended
  • Milk Thistle supplement– इसमें Silymarin नामक तत्व होता है जो लिवर सेल्स की मुरम्मत करता है इसके लिए टैबलेट silybon 70/140 mg मेडिकल स्टोर्स पर आसानी से मिल जाती है।

    बढ़े हुए SGOT व SGPT को कम करने के उपाय...
    Milk Thistle supplement

  • ओमेगा ३ फैटी एसिड्स supplements
  • विटामिन E supplements

    बढ़े हुए SGOT व SGPT को कम करने के उपाय...
    विटामिन E

कोई भी व्यक्ति इस प्रकार की दवाओं का उपयोग किसी योग्य चिकित्सक से परामर्श के बाद ही कर सकता है। आमतौर पर, ये लिवर की समस्याओं का इलाज करने वाली बहुत ही सुरक्षित और प्रभावी दवाएं हैं और अब तक इनका कोई साइड या प्रतिकूल प्रभाव नहीं देखा गया है।

लिवर को स्वस्थ रखने के लिए नीचे दिए गए आर्टिकल को भी पढ़े…

“फैटी लिवर के कारण लक्षण परहेज़ व इलाज़”


अस्वीकरण (disclaimer)… 

  • इस लेख की सामग्री व्यावसायिक चिकित्सा सलाह(professional medical advice), निदान(diagnosis) या उपचार(ट्रीटमेंट) के विकल्प के रूप में नहीं है।
  • चिकित्सीय स्थिति के बारे में किसी भी प्रश्न के लिए हमेशा चिकित्सीय(doctor कंसल्टेशन) सलाह लें।
  • उचित चिकित्सा पर्यवेक्षण(without proper medical supervision) के बिना अपने आप को, अपने बच्चे को, या किसी और का  इलाज करने का प्रयास न करें।

Image-creditधन्यवाद to www.pixabay.com

अधिक जानकारी के लिए कृपया hindi.curetoall.com पर जाएं और नीचे दिए गए आर्टिकल्स को भी पढ़ें:


12 thoughts on “बढ़े हुए SGOT व SGPT को कम करने के उपाय…”

  1. Pingback: typhoid in hindi- टाइफाइड कारण, लक्षण, बचाव व् उपचार के सारे विकल्प -

Leave a Comment

Your email address will not be published.

hello
%d bloggers like this: