दाद को जड़ से खत्म करने के सारे उपाय

दाद को जड़ से खत्म करने के सारे उपाय

दाद को जड़ से खत्म करने के उपाय…

  • दाद को जड़ से खत्म करने के उपाय जानने से पहले दाद क्या है इसके बारे में जानना बहुत जरूरी है 

इसको आम भाषा में रिंगवार्म भी कहते है और ये एक प्रकार का फंगल इन्फेक्शन है 

  • जो लाल या भूरे रंग की अंगूठी के आकार का होता है और बहुत अधिक खुजली का कारण बनता है।

यह अन्य सभी शरीर के अंगों में फैल जाता है और प्रभावित क्षेत्र के अनुसार, इसके कई नाम हैं जैसे…

TINEA CRURIS…

दाद को जड़ से खत्म करने के सारे उपाय
दाद tinea cruris
  • टीनिया क्रुरिस या जॉक खुजली(JOCK ITCH), जब यह कमर क्षेत्र की आंतरिक जांघों(INNER SIDE OF THIGHS) को प्रभावित करता है।

TINEA BARBAE…

  • पुरुषों के दाढ़ी वाले हिस्से के प्रभावित होने पर इसे टीनिया बार्बाई कहा जाता है।

TINEA PEDIS…

  • जब इसने पैर को प्रभावित किया तो इसे एथलीट फुट या टिनिया पेडिस कहा जाता है।

ONYCHOMYCOSIS…

  • जब यह नाखूनों को प्रभावित करता है तो इसे Onychomycosis या नाखुनो का फंगल संक्रमण  कहा जाता है।

TINEA MANNUM…

  • जब ये फंगल संक्रमण हाथों पर फैलता है तो इसे टीनिया मैनम कहा जाता है।

TINEA CAPITIS…

दाद को जड़ से खत्म करने के सारे उपाय
tinea capitis
  • जब कवक खोपड़ी(SCALP REGION) के क्षेत्र को प्रभावित करता है तो इसे टिनिया कैपिटिस कहा जाता है।

TINEA CORPORIS…

दाद को जड़ से खत्म करने के सारे उपाय
रिंगवर्म स्ट्रक्चर
  • जब ये फंगस हमारी पीठ, पेट, स्तन और नितंबों के नीचे के क्षेत्र आदि को प्रभावित करता है और रिंग जैसी संरचनाएं बनाता है

तो इसे त्वचा का टिनिया कॉर्पोरिस या रिंगवर्म संक्रमण कहा जाता है।


  • दरअसल, यह कोई कीड़ा नहीं है, बल्कि रिंग संरचना के कारण इसे रिंगवर्म कहा जाता है।
  • यह पुरुषों और महिलाओं दोनों को प्रभावित करने वाला सबसे सामान्य प्रकार का त्वचा संक्रमण है।
  • कवक(FUNGUS) न केवल मानव को प्रभावित करता है बल्कि यह जानवरों में बहुत सारी समस्याओं का कारण बनता है
  • इसके बावजूद कवक(FUNGUS) हमारे पौधों और कृषि भूमि को भी प्रभावित करता है।

फंगस कई अन्य बीमारियों का भी कारण बनता है जैसे ओरल थ्रश का मतलब है जीभ का फंगल संक्रमण,

  • यह हमारे फेफड़ों को भी प्रभावित करता है और निमोनिया का कारण बनता है।
  • कवक(FUNGUS) हर जगह है और हर तीसरा या चौथा व्यक्ति त्वचा के फंगल संक्रमण से प्रभावित होता है।

आने वाले समय में ये भी महामारी का रूप लेगा ऐसा एक रिसर्च में पाया गया है|


दाद के प्रमुख कारण…

  • त्वचा की दाद के संक्रमण डर्माटोफाइट्स(dermatophytes) नामक कवक(fungus) के एक समूह के कारण होते हैं।

जो आम तौर पर हमारी त्वचा पर रहते हैं और संतुलन बनाए रखते हैं।

  • लेकिन जब कोई भी स्वस्थ व्यक्ति स्वच्छता का ख्याल नहीं रखता है और व्यायाम के बाद पसीने से लथपथ कपड़ों में रहता है

तो कवक(fungus) जल्दी से गुणा(multiply) करना शुरू कर देता है और त्वचा के फंगल संक्रमण का कारण बनता है।

  • दाद (jock itch) या टिनिआ क्रुरिस बहुत संक्रामक है
  • और यह दूसरे व्यक्ति के संक्रमित कपड़ों का उपयोग करने से भी फैलता है जो पहले से ही दाद से प्रभावित है
  • कभी-कभी संक्रमित घरेलू जानवरों जैसे कुत्तों, बिल्लियों आदि से संक्रमण फैलता है,
  • इसलिए सावधान रहें और पालतू जानवरों की उचित स्वच्छता बनाए रखें।

    ओटीसी ब्रांडों का अति प्रयोग(over the counter) …

     

  • ओवर-द-काउंटर सामयिक स्टेरॉयड मरहम(topical creams) की उपलब्धता के कारण, प्रत्येक व्यक्ति इन उत्पादों का उपयोग करता है और स्थिति को बद से बदतर बना लेता है।

उनकी लापरवाही के कारण, सरल फंगल संक्रमण या सामान्य दाद बहुत जटिल और दवा प्रतिरोधी(drug resistant) फंगल संक्रमण में बदल जाता है

  • तो नियमित रूप से नैदानिक उपचार में, इस तरह के फंगल संक्रमण या दाद का इलाज करना बहुत मुश्किल हो जाता है।

इसलिए इस प्रकार की उच्च शक्ति वाली स्टेरॉयड क्रीम के साथ खुद का इलाज करते समय सावधान रहें।

  • स्टेरॉयड साधारण संक्रमणों को सुपरइंफेक्शन में बदल देते हैं,
  • आपकी त्वचा को पतला करते हैं, और बहुत सारे अन्य खतरनाक दुष्प्रभाव होते हैं।

इसलिए साधारण त्वचा संक्रमण को बहु-दवा प्रतिरोधी त्वचा संक्रमण में परिवर्तित न करें।

  • यहाँ मैं अपने मरीज़ों की एक तस्वीर साझा कर रहा हूँ,

    दाद को जड़ से खत्म करने के सारे उपाय
    stretch marks

  • जिन्होंने अधिक सामयिक क्रीमों के अति प्रयोग के कारण बहुत अधिक खिंचाव के निशान(stretch marks) त्वचा पर विकसित कर लिए हैं।

इस विषय में, मैं आपको बिना किसी साइड इफेक्ट के इलाज के लिए सबसे अच्छा विकल्प दूंगा।

  • साथ ही, आपको कुछ घरेलू उपचार भी देते हैं जो दाद के उपचार में बहुत प्रभावी हैं।

fungus ज्यादातर शरीर के गर्म, पसीने और शरीर के अनहेल्दी क्षेत्रों को प्रभावित करता है


दाद या फंगल संक्रमण के लक्षण …

दाद को जड़ से खत्म करने के सारे उपाय
TINEA या दाद के लक्षण
  • लालपन
  • जलन की अनुभूति
  • लगातार खुजली होना
  • त्वचा का छिलना
  • त्वचा का फटना
  • कभी-कभी त्वचा का फड़कना

प्रभावित क्षेत्र पर विशिष्ट चकत्ते दिखाई देते हैं

  • जब कभी-कभी द्वितीयक जीवाणु संक्रमण(secondary infections) होता है, तो कभी-कभी पाक वाले फोड़े आदि (pustules) बन जाते हैं

ये कई प्रकार के दाद के सामान्य लक्षण हैं लेकिन प्रभावित क्षेत्र के अनुसार लक्षण प्रकृति में भिन्न होते हैं। उदाहरण के लिए

  • फंगल नाखून संक्रमण में नाखूनों में खुजली नहीं होती|
  • खोपड़ी में फंगल से प्रभावित होने पर खोपड़ी में बालों का झड़ना होता है|

उपरोक्त सभी स्थितियों में, दाद या टिनिया क्रुरिस और टिनिया कॉर्पोरिस बहुत समस्या पैदा करते हैं और अधिकांश जनता इनसे प्रभावित है।

  • यहां मेने दाद का वर्णन किया हैं जो दुनिया की असली महामारी बनने जा रही है,

विशेष रूप से एशिया जैसे गर्म और गर्म जलवायु के क्षेत्र।


दाद या फंगल संक्रमण की रोकथाम …

  • रोकथाम के उपाय के रूप में, आपको अपनी त्वचा की सिलवटों(skin folds) को विशेष रूप से साबुन और पानी से रोजाना धोना चाहिए।
  • एक स्वस्थ जीवन शैली बनाए रखें और अपने कपड़े रोज बदलें।
  • इनर वियर जैसे अंडरवियर को रोजाना धोना और बदलना चाहिए।कपास सामग्री(cotton material)से बने होने चाहिए है
  •  नम या गीला व गन्दा अंडरवियर नहीं पहनना है
  • क्योंकि दाद  के 90 प्रतिशत से अधिक मामले नम और गंदे इनरवियर पहनने के कारण होते हैं,

मैं आपको सलाह देता हूं कि इसके इस्तेमाल से पहले आपके इनरवियर को इस्त्री(ironing) किया जाना चाहिए।


 

दाद का निदान(Diagnosis) …

  • यह बहुत आसान है केवल शारीरिक परीक्षण से आपका त्वचा विशेषज्ञ सही निदान कर लेता है
  • लेकिन कुछ मामलों में, त्वचा के छींटों(स्किन scrapings) को कुछ अन्य प्रकार के त्वचा रोगों

जैसे सोरियासिस का पता लगाने के लिए परीक्षण किया जाता है


दाद के उपचार के विकल्प(ट्रीटमेंट options)…

  • आधुनिक चिकित्सा में कुछ सामयिक क्रीम(topical creams) और उदाहरण के लिए कुछ टैबलेट्स में बहुत सीमित(limited) उपचार विकल्प उपलब्ध हैं …
  • फ़्लुकोनाज़ोल(FLUCONAZOLE) और इट्राकोनाज़ोल(ITRACONAZOLE) मुख्य मौखिक दवाएं हैं

जो दुनिया में इस्तेमाल की जाती हैं दाद को जड़ से खत्म करने के सारे उपायों में ये सबसे आगे है…

  • इनके बावजूद टेरबिनाफिन(TERBINAFINE) ,ग्रिस्फोफ्लविन(GRISEOFULVIN) का उपयोग उपरोक्त दवाओं के साथ भी किया जाता है।

दाद के उपचार के लिए मिकोनाजोल(MICONAZOLE) और क्लोट्रिमाज़ोल(CLOTRIMAZOLE), केटोकोनाज़ोल(KETOCONAZOLE) सबसे अधिक इस्तेमाल की जाने वाली सामयिक(TOPICAL) दवाएं हैं।

  • इनके बावजूद कई केसों में Econazole, उपरोक्त दवाओं के साथ-साथ ऑक्सीकोनाज़ोल(OXICONAZOLE) और लुलिकोनज़ोल(LULICONAZOLE) का भी उपयोग किया जाता है।
  • ये सामयिक दवाएं हल्के से उच्च शक्ति वाले स्टेरॉयड के संयोजन के साथ उपलब्ध हैं।
  • इसलिए उचित मरहम का चयन करते समय बहुत सावधान रहें।

किसी भी प्रकार की मौखिक या सामयिक दवा का चयन करने से पहले आपको अपने त्वचा चिकित्सक से परामर्श जरुर करना चाहिए।


हमारी सीमाएँ(Our limitations)…

  • मैं दृढ़ता से त्वचा के दाद या फंगल संक्रमण के इलाज के लिए ओवर-द-काउंटर दवाओं का उपयोग नहीं करने की सलाह देता हूं।

क्योंकि हमारे पास बहुत सीमित दवाएं हैं

  • और अगर इन दवाओं से प्रतिरोध(RESISTANCE) विकसित होता है

तो डॉक्टरों के लिए आपके फंगल संक्रमण का इलाज करना बहुत मुश्किल हो जाएगा।

  • फिर इस तरह के साधारण त्वचा संक्रमण त्वचा की प्रमुख बीमारिया बन जायेंगी,
  • जिनसे निजात पाना भविष्य में बहुत कठिन हो जाएगा

इसलिए बिना जानकारी मेडिकल से खरीद कर इन दवायों का अति मात्रा में use नहीं करना चाहिए |


दाद के घरेलू उपचार(Home Remedies)…

 

  • नीम (Azadirachta indica) एक बहुत ही सामान्य पौधा है
  • आपको प्रतिदिन दो बार प्रभावित क्षेत्रों पर नीम का पेस्ट लगाना चाहिए और उचित स्वच्छता बनाए रखनी चाहिए।

त्वचा के दाद या फंगल संक्रमण के इलाज के लिए लहसुन का पेस्ट सामयिक(topical) उपयोग के लिए भी बहुत उपयोगी है।

  • नारियल के तेल में थोड़ी मात्रा में कपूर मिलाकर पेस्ट बना लें
  • और फिर प्रभावित क्षेत्रों पर रोजाना दो से तीन बार लगायें
  • यह दाद को जड़ से खत्म करने के सारे उपाय के हिसाब से सामयिक उपयोग के लिए बहुत प्रभावी है।
  • VicksVaporub में कैम्फ़र और मेंथोल के साथ-साथ नीलगिरी का तेल भी शामिल है, जो कि फंगल संक्रमण पर बहुत प्रभावी  है।

एप्पल साइडर सिरका दाद  के इलाज के लिए आंतरिक रूप(internally) से उपयोग किया जा सकता है।

  • किसी भी तरह की त्वचा की समस्या के लिए आयुर्वेद में टी ट्री ऑयल(Tea tree oil) का उपयोग किया जाता है।
  • दही और प्रोबायोटिक्स खाएं क्योंकि उनमें पर्याप्त मात्रा में अच्छे बैक्टीरिया होते हैं जो वास्तव में किसी भी प्रकार के फंगल संक्रमण को रोकने में मदद करते हैं।

नारियल के तेल में लौरिक एसिड(Lauric acid) और एंटीमाइक्रोबियल लिपिड होते हैं

  • जो नारियल की तरह मध्यम-श्रृंखला फैटी(medium chain fatty acids) एसिड में पाए जाते हैं
  • इसलिए नारियल तेल का उपयोग कई वर्षों से कई प्रकार के त्वचा संक्रमणों के इलाज के लिए किया जाता है।
  • हल्दी में एंटीमाइक्रोबियल और एंटी-फंगल गुण भी होते हैं

और इसका उपयोग त्वचा के कई फंगल संक्रमणों के इलाज के लिए भी किया जाता है।


दाद के इलाज़ के लिए कुछ महत्वपूर्ण होम्योपैथिक दवाइयाँ…

 

  • बेसिलिनम(Bacillinum)
  • टेल्यूरियम(Tellurium)
  • सीपिया(Sepia)
  • सल्फर(Sulphur)
  • दुलमकारा(Dulcamara)

जिनका उपयोग कई तरह की त्वचा की समस्याओं खासकर फंगल संबंधी समस्याओं के इलाज के लिए किया जाता है

  • ज़ालिम लोशन और ज़ालिम एक्स लोशन भी दाद को जड़ से खत्म करने के सारे उपाय इलाज करने के लिए बहुत प्रभावी आयुर्वेदिक ब्रांडेड दवाएं हैं।

हालांकि फंगल संक्रमण गंभीर नहीं हैं, लेकिन स्टेरायडल मलहम(steroid ointments) के अति प्रयोग से स्थिति सबसे खराब हो जाती है।

  •  सामयिक स्टेरॉयड(topical steroids) के लंबे समय तक उपयोग के बाद त्वचा पर बहुत सारे स्ट्रेच निशान उभर आते हैं
  • और एक बार जब वे फट जाते हैं तो उनका इलाज करना असंभव है।

सामयिक स्टेरॉयड भी त्वचा के माध्यम से शरीर में प्रवेश कर हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को कम करते हैं।


Prescription by a doctor…

 

मैं आपको सबसे अच्छा नुस्खा दे रहा हूं यदि आप पहले से ही दाद या टिनिया कॉर्पोरिस संक्रमण से पीड़ित हैं,

  • लेकिन इसे लेने से पहले आपको अपने डॉक्टर से या मेरे साथ मेरे व्हाट्सएप नंबर पर ऑनलाइन परामर्श करना होगा

यह नुस्खा …(दाद को जड़ से खत्म करने के सारे उपाय)

१. कैप. इट्राकोनाजोल(itraconazole) 100 मिलीग्राम दिन में दो बार
२. टैब. रॉक्सिथ्रोमाइसिन(roxithromycin) 150mg दिन में दो बार
३. टैब. Ebastine 20mg दिन में एक बार
४. दिन में एक बार टैब.विटामिन सी(vitamin c)

  • पर्मेथ्रिन (permethrin) या नीम साबुन के साथ नहाना है व मरहम क्लॉट्रिमेज़ोल प्लेन रोज़ाना दो बार स्नान के बाद लगाना है।

यह सब उपचार चार से छह सप्ताह तक करें और उचित स्वास्थ्यकर(proper hygienic conditions) स्थिति बनाए रखें।

इस उपचार को लेने के बाद यदि आपको कोई समस्या है तो अपने डॉक्टर से परामर्श करें।


मेरी राय…

दाद को जड़ से खत्म करने के सारे उपाय
लेखक
  • मुझे लगता है कि मैंने फंगल या दाद रोगों के प्रत्येक और हर पहलू को समझाया है
  • और यदि आपके कोई प्रश्न हैं या मेरे साथ परामर्श करना चाहते हैं तो मुझे [email protected] पर लिखें
  • और मुझे प्रभावित क्षेत्रों(AFFECTED AREAS OF SKIN) की तस्वीरें मेरे व्हाट्सएप नंबर +91 9855262699 पर भेजें।
  • मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि किसी भी तरह की त्वचा की समस्या से छुटकारा पाने में मैं आपकी मदद जरूर करूंगा।

Dr.V.K.GOYAL GOYAL SKIN AND GENERAL HOSPITAL NEAR BUNTY HEALTH CLUB GIDDARBAHA MUKTSAR PUNJAB.


अस्वीकरण(disclaimer)…

 

  • इस लेख की सामग्री व्यावसायिक चिकित्सा सलाह(professional medical advice), निदान(diagnosis) या उपचार(ट्रीटमेंट) के विकल्प के रूप में नहीं है।
  • चिकित्सीय स्थिति के बारे में किसी भी प्रश्न के लिए हमेशा चिकित्सीय(doctor कंसल्टेशन) सलाह लें।
  • उचित चिकित्सा पर्यवेक्षण(without proper medical supervision) के बिना अपने आप को, अपने बच्चे को, या किसी और का  इलाज करने का प्रयास न करें।

image creditधन्यवाद to www.pixabay.com इतनी प्यारी images के लिए

  • लेखक : डॉ. वी .के. गोयल आयुर्वेदाचार्य BAMS MD(AM).

अधिक अपडेट के लिए कृपया www.curetoall.com पर जाएं और नीचे दिए गए लेखों को भी पढ़ें:


1 thought on “दाद को जड़ से खत्म करने के सारे उपाय”

Leave a Comment

Your email address will not be published.

hello
%d bloggers like this: