मोटा होने के लिए टेबलेट नाम

मोटा होने के लिए Best Ayurvedic टेबलेट | कैप्सूल्स | चूर्ण के नाम | Weight Gain Tips in Hindi

मोटा होने के लिए बेस्ट टेबलेट के नाम: आजकल ज्यादातर लोग मोटापे की समस्या से पीड़ित हैं बावजूद इसके बहुत से लोग ऐसे भी हैं जो मोटे होने के लिए हर संभव प्रयास करने के बावजूद भी मोटे नहीं हो पा रहे हैं

हमारे पास प्रतिदिन ऐसे कितने ही व्यक्ति आते हैं जिनका शारीरिक वजन सामान्य से काफी कम है तथा पूछने पर बताते हैं कि हमें खूब भूख लगती है हम खूब दबाकर खाना खाते हैं बावजूद इसके भी पतले हैं जिस कारण समाज में हमें हीन भावना का शिकार होना पड़ता है

ऐसी स्थिति में ज्यादा दुबले पतले लोगों को वजन बढ़ाने के लिए आयुर्वेदिक औषधियों का प्रयोग करना काफी सफल सिद्ध हुआ है

इन आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों के इस्तेमाल से कुछ ही दिनों में वजन का बढ़ना शुरू हो जाता है

आयुर्वेद में मोटा होने के लिए बेस्ट टेबलेट के नाम सहित आयुर्वेदिक जड़ी बूटियां जो प्रमुख तौर पर  इस्तेमाल की जाती हैं उनका विवरण नीचे दिया गया है मोटा होने की दवा वह भी आयुर्वेदिक के बारे में जानने के लिए कृपया इस आर्टिकल को ध्यान से पढ़ें

जल्दी मोटा होने के उपाय आयुर्वेद मे (best methods to gain weight in ayurveda in hindi)

जो चाहें वो पढ़ें hide
1 जल्दी मोटा होने के उपाय आयुर्वेद मे (best methods to gain weight in ayurveda in hindi)
1.3 मोटा होने की सबसे असरदार आयुर्वैदिक दवा (best weight gain medicine in hindi)

१. अश्वगंधा –

  • अश्व यानी घोड़े की गंध वाली एक सुप्रसिद्ध आयुर्वेदिक जड़ी बूटी जो शरीर में ताकत बढ़ाने तथा शरीर को मोटा करने में बहुत ही कारगर है 

इसका सेवन अश्वगंधा चूर्ण, पाक, कैप्सूल, आसव-अरिष्ट इत्यादि किसी भी रूप में किया जा सकता है

पतले व्यक्ति दिन में दो बार 5-5 ग्राम की मात्रा में अश्वगंधा चूर्ण का प्रयोग हल्के गुनगुने दूध के साथ कर सकते हैं

इसके इस्तेमाल से भूख बढ़ती है शरीर की मांसपेशियां सुदृढ़ बनती हैं बहुत ही बढ़िया प्राकृतिक टॉनिक है इसका सेवन कुछ ही दिनों में वजन को बढ़ाने लगता है

“मोटा होने के लिए बेस्ट टेबलेट नाम” पढ़ते रहें…


२. सफेद मूसली –

भारत के सुप्रसिद्ध आयुर्वेदिक चिकित्सक यह बताते हैं कि जिन लोगों का वजन सामान्य से कम है उन्हें दिन प्रतिदिन अपनी दिनचर्या में सफेद मूसली का इस्तेमाल पाउडर के रूप में दूध के साथ दिन में दो बार करने से वजन बढ़ने लगता है

  • शरीर में उर्जा का संचार होता है
  • कमजोरी दूर होने लगती है
  • मानसिक स्ट्रैंथ बढ़ने लगती है
  • डिप्रेशन तथा मानसिक तनाव कम होने लगता है
  • मानसिक तनाव कम होने से भूख के लक्षणों में भी बहुत सुधार होता है

३. विदारीकंद –

  • शरीर का पोषण करने के लिए विटामिन, मिनरल तथा कार्बोहाइड्रेट्स से भरी हुई यह आयुर्वेदिक जड़ी बूटी वजन बढ़ाने में भी बहुत कारगर है

इसका इस्तेमाल अश्वगंधा तथा सफेद मूसली के साथ योग के रूप में करने से कुछ ही दिनों में वजन बढ़ने लगता है 

लगभग सभी आयुर्वेदिक चिकित्सक शारीरिक कमजोरी तथा पतलेपन को दूर करने के लिए इसका इस्तेमाल करते हैं


४. सौफ़ –

  • आयुर्वेद के अनुसार सौंफ का इस्तेमाल जठराग्नि को बढ़ाता है जिससे भूख बढ़ती है 

इसलिए ऐसे लोग जो भूख ना लगने की वजह से पतले हैं उनके लिए सौंफ का इस्तेमाल बहुत फायदेमंद है क्योंकि भूख बढ़ेगी तभी तो हाई कैलरी वाला खाना शरीर में जाएगा जिससे वजन बढ़ाने में सहायता मिलेगी


५. पिपली

  • 7 से 8 गोल काली मिर्च को आपस में मिला दिया जाए तो यह बिल्कुल पिपली की तरह दिखने लगेगी

आयुर्वेद में जठराग्नि को बढ़ाने मे पिपली बहुत ही कारगर औषध है 

इसके सेवन से शरीर का मेटाबॉलिज्म बढ़ता है जिससे भूख बढ़ती है भूख बढ़ने से ही वजन को बढ़ाने में सहायता मिलती है


६. शतावरी –

आयुर्वेद में इस जड़ी बूटी का प्रयोग स्त्री रोगों को दूर करने के लिए किया जाता है परंतु वजन को बढ़ाने में भी यह बहुत ही कारगर औषधि है 

शतावरी चूर्ण का इस्तेमाल दिन में एक से दो बार 3 से 5 ग्राम की मात्रा में दूध के साथ कुछ दिन करने से बढ़िया रिजल्ट मिलने लगते हैं 

यह आजमाई हुई आयुर्वेदिक औषध है


७. शरीफा

आयुर्वेद में कुछ ऐसे फल है जिनका कैलरी इंडेक्स बहुत हाई होता है 

इसलिए अगर इनका इस्तेमाल नियमित रूप से किया जाए तो यह वजन बढ़ाने में भी बहुत फायदेमंद साबित होते हैं 

शरीफा फल इसी प्रकार की आयुर्वेदिक औषध है


८. जीरा

नियमित रूप से जीरे का प्रयोग भूख बढ़ाने में, शरीर का मेटाबॉलिज्म तेज करने में तथा पाचन तंत्र को मजबूत करने में बहुत उपयोगी है

भूख बढ़ाने के लक्षणों के कारण इसका इस्तेमाल सहायक औषधि के रूप में वजन बढ़ाने के लिए भी किया जा सकता है

“मोटा होने के लिए बेस्ट टेबलेट नाम” KEEP READING…


मोटा होने की सबसे असरदार आयुर्वैदिक दवा (best weight gain medicine in hindi) 

यह सप्लीमेंट्स इस्तेमाल में बिल्कुल सुरक्षित तथा बहुत फायदेमंद होते हैं इनके निर्माण में उच्च गुणवत्ता वाली आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों का प्रयोग किया जाता है इनके इस्तेमाल से…

  • शरीर में ऊर्जा का संचार होता है
  • भूख बढ़ती है
  • मेटाबॉलिज्म की क्रिया में सुधार होता है
  • खाया पिया लगने लगता है
  • मानसिक तनाव, एंजाइटी तथा डिप्रेशन के लक्षणों को दूर करने में भी बहुत उपयोगी है

जिन व्यक्तियों का वजन बहुत कम है हर संभव प्रयास करने के बावजूद भी बढ़ नहीं रहा है ऐसे व्यक्ति इन आयुर्वेदिक उत्पादों को अपने जीवन में अपनाकर कुछ ही दिनों में अपना वजन बढ़ा सकते हैं यह प्रोडक्ट इस प्रकार हैं जैसे कि…

1. पौरूष जीवन कैप्सूल (Paurush Jiwan Capsules)

यह देव फार्मेसी के द्वारा बनाया गया आयुर्वेदिक ब्रांड है जिसकी कीमत प्रति 10 कैप्सूल लगभग 37 रुपए है आसानी से किसी भी मेडिकल स्टोर से इसे खरीदा जा सकता हैPaurush Jiwan Capsulesपौरूष जीवन कैप्सूल में प्रमुख रूप से लोंग, अदरक, शिलाजीत, अश्वगंधा, वंग भस्म, लोह भसम, अर्जुन, शतावरी, आंवला, कपिकछु तथा पिपली इत्यादि अनेक प्रकार की प्रसिद्ध आयुर्वेदिक जड़ी बूटियां शामिल की गई है

इनके सेवन से कुछ ही दिनों में…

  • शरीर में नई ऊर्जा का संचार होता है
  • स्वास्थ्य का स्तर बढ़ने लगता है
  • फिटनेस बढ़ने लगती है
  • भूख बढ़ती है
  • कम हुआ वजन धीरे-धीरे बढ़ने लगता है

मार्केट में यह ब्रांड बहुत ही प्रसिद्ध है

मात्रा 

  • पौरूष जीवन कैप्सूल पूरे दिन में एक कैप्सूल दिन में तीन बार या दो कैप्सूल सुबह व दो शाम को दूध के साथ इस्तेमाल किए जा सकते हैं

यह बिल्कुल सुरक्षित आयुर्वेदिक दवा है जिसका किसी भी प्रकार का कोई दुष्प्रभाव नहीं है

इसे 2 से 3 महीने तक लगातार सेवन किया जा सकता है

नोट -शरीर का वजन बढ़ने पर एकदम से इस कैप्सूल को बंद ना करें, बल्कि धीरे-धीरे इसकी मात्रा कम करते जाएं, ऐसा करने से जो परिणाम आपको प्राप्त हुए हैं वह स्थिर रहते हैं


2. स्ट्रेसकॉम कैप्सूल (stresscom capsules)

डाबर कंपनी द्वारा निर्मित आयुर्वेदिक दवा 10 कैप्सूल्स प्रत्येक स्ट्रिप मार्केट में उपलब्ध है कीमत 70 rupee के लगभग होती है

इस कैप्सूल में प्रमुख रूप से आयुर्वेदिक जड़ी बूटी अश्वगंधा के एक्सट्रैक्ट को मिलाया गया हैstresscom capsulesस्ट्रेसकॉम कैप्सूल का सेवन…

  • शरीर को स्वस्थ बनाता है
  • एनर्जी लेवल बढ़ाता है
  • मानसिक तनाव कम करता है
  • भूख के लक्षणों में सुधार करता है
  • शरीर का वजन बढ़ाने में सहायक है

कम शब्दों में कहें तो यह कैप्सूल आपको शारीरिक तथा मानसिक दोनों ही रूपों में बहुत फायदा करता है

मात्रा 

वजन बढ़ाने के लिए एक से दो कैप्सूल सुबह तथा ऐसे ही शाम को खाना खाने से कम से कम आधा घंटा बाद हल्के गर्म दूध के साथ सेवन करें


3. स्वास्थ्य वर्धक कैप्सूल (Swasth vardhak capsule)

भूख की कमी के लक्षणों में सुधार करने के लिए तथा वजन बढ़ाने में यह आयुर्वेदिक दवा बहुत ही प्रसिद्ध हैमोटा होने के लिए टेबलेट नामपूरे भारतवर्ष में मेरे हिसाब से वजन बढ़ाने के लिए अगर किसी आयुर्वेदिक औषध का प्रयोग किया जाता है तो उसका नाम स्वास्थ्यवर्धक कैप्सूल है

  • सन इंडिया कंपनी द्वारा निर्मित 20 कैप्सूल्स की पैकिंग में मार्केट में उपलब्ध है इसे ऑनलाइन भी खरीदा जा सकता है

स्वास्थ्यवर्धक कैप्सूल में प्रमुख रूप से लोह भसम, त्रिफला, चिरायता, मंजिष्ठा, कालमेघ, अभ्रक भस्म, विदारीकंद, अकर्करा, वंग भस्म, क्रौंच बीज, जीरा, कासमी, कंटकारी, अर्जुन मंडूर भस्म, शिलाजीत, सफेद मूसली, जावित्री, जैफल तथा अश्वगंधा इत्यादि सभी प्रकार की प्रसिद्ध आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों को शामिल किया गया है

मात्रा 

  • एक से दो कैप्सूल दिन में दो बार खाना खाने से कम से कम आधा घंटा पहले या बाद में हल्के गर्म दूध के साथ नियमित रूप से प्रयोग करने चाहिए

वजन बढ़ाने के लिए इस कैप्सूल के रिजल्ट शत प्रतिशत है साथ ही साथ शुद्ध आयुर्वेदिक होने की वजह से कोई भी साइड इफेक्ट इस कैप्सूल का नहीं है


4. गुड हेल्थ कैप्सूल (dr biswas good health capsule)

Biswas आयुर्वेदिक कंपनी द्वारा निर्मित बोतल तथा स्ट्रिप पैकिंग में उपलब्ध है जिसकी प्रत्येक पैकिंग में 50 कैप्सूल मौजूद होते हैं इसे आप मेडिकल स्टोर या ऑनलाइन भी खरीद सकते हैं

इसका बिक्री मूल्य 232 रुपए के लगभग है इसके अंदर प्रमुख रूप से अश्वगंधा, द्राक्षा, ब्रह्मी, शंखपुष्पी, मुलेठी, जटामांसी, अनंतमूल, गोक्षुर, आमलकी, बिरंगा इत्यादि सुप्रसिद्ध शुद्ध आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों को मिलाया गया हैमोटा होने के लिए टेबलेट नाम

भूख बढ़ाने तथा वजन को बढ़ाने के लिए बहुत ही बढ़िया आयुर्वेदिक सुरक्षित दवा है

  • लीवर को मजबूत करता है
  • पाचन तंत्र की प्रक्रिया में सुधार करता है
  • इसके अलावा एथलेटिक परफॉर्मेंस को बढ़ाने में भी कारगर है

ज्यादा जानकारी के लिए इसके लेबल पर दिए गए हेल्पलाइन नंबर पर फोन कर जानकारी प्राप्त की जा सकती है

मात्रा 

एक से दो कैप्सूल दिन में दो बार खाना खाने से आधा घंटा पहले या बाद में हल्के गर्म दूध के साथ नियमित रूप से प्रयोग किए जा सकते हैं इनके इस्तेमाल से मात्र 1 से 2 सप्ताह में बढ़िया रिजल्ट देखने लगते हैं

“मोटा होने के लिए बेस्ट टेबलेट नाम” आगे ओर पढ़े…


 5. अश्वगंधा कैप्सूल by  पतंजलि

यह कैप्सूल्स पतंजलि आयुर्वेदा द्वारा निर्मित 10 कैप्सूल्स प्रत्येक स्ट्रिप के हिसाब से मार्केट में उपलब्ध है इनका बिक्री मूल्य मात्र 25 से ₹30 के लगभग है

इन कैप्सूल्स में प्रमुख रूप से अश्वगंधा की जड़ों के एक्सट्रैक्ट को 390 मिलीग्राम की मात्रा में तथा अश्वगंधा पाउडर 50 मिलीग्राम की मात्रा में प्रत्येक कैप्सूल में मिलाया गया हैमोटा होने के लिए टेबलेट नाम इसे आप ऑनलाइन भी खरीद सकते हैं

  • सामान्य कमजोरी
  • भूख के लक्षणों में कमी
  • वजन बढ़ाने के लिए
  • अर्थराइटिस
  • मानसिक तनाव इत्यादि की समस्याओं में इस कैप्सूल का इस्तेमाल बहुत कारगर है
  • ब्रेन पावर तथा मेमोरी बूस्टर के रूप में भी इसका इस्तेमाल बहुत फायदेमंद है

मात्रा 

  • एक से दो कैप्सूल दिन में दो बार हल्के गर्म दूध के साथ खाना खाने से आधा घंटा पहले या बाद में नियमित रूप से प्रयोग किए जाने चाहिए

विशेष ध्यान दें

अगर आपने वजन को बढ़ाने के लिए सभी प्रकार के आयुर्वेदिक तथा घरेलू उपाय अपना लिए हैं बावजूद इसके भी आपका वजन नहीं बढ़ रहा है

तो कृपया मेरे व्हाट्सएप नंबर पर आप मुझसे संपर्क कर सकते हैं

मेरे द्वारा तैयार की गई आयुर्वेदिक दवा वजन बढ़ाने में बहुत ही कारगर है इससे हमने अपने अनेक रोगियों का वजन मात्र 4 से 6 सप्ताह उपयोग कराने से 8 से 10 किलो ग्राम तक बढ़ाया है

मैं आपको पूरी तरह से यह विश्वास दिलाता हूं कि अगर आप मेरे द्वारा तैयार की गई शुद्ध आयुर्वेदिक दवा को अपनाते हैं तो मात्र कुछ ही दिनों में आपका कम शारीरिक वजन तेज़ी से बढ़ने लगेगा

  • Dr V K Goyal BAMS MD (AM) आयुर्वेदाचार्य
  • व्हाट्सएप नंबर- 9855262699

दुबले-पतले शरीर को मोटा कैसे बनाएं? (how to gain weight fast in hindi)

दुबले पतले शरीर की वजह से कई लोगों का सेल्फ कॉन्फिडेंस भी कम हो जाता है क्योंकि उनके लिए अच्छे कपड़े शरीर पर सही प्रकार से फिट नहीं हो पाते हैं

इसके अतिरिक्त ज्यादा पतले लोगों का अन्य सामाजिक लोगों द्वारा कई बार मजाक भी बनाया जाता है ऐसे में सेहत बनाने तथा वजन को बढ़ाने के लिए ऊपर लिखी गई आयुर्वेदिक दवाओं के साथ साथ नीचे लिखी गई कुछ आहार आइटम्स का उपयोग भी करना चाहिए, ऐसा करने से वजन बढ़ाने में ओर भी ज्यादा फायदा होगा

इन उपायों का विवरण इस प्रकार है जैसे कि…

1. केले का सेवन (Banana for Weight Gain in Hindi)

केला कैल्शियम, विटामिन B12, कार्बोहाइड्रेट्स तथा अनेक प्रकार के पोषक तत्व जैसे पोटैशियम इत्यादि से भरपूर होता है इसको सुपर फूड भी कहते हैं वजन बढ़ाने के लिए प्रतिदिन 4 से 6 केले किसी भी रूप में अवश्य खाने चाहिएमोटा होने के लिए टेबलेट नाम

इसके लिए केले को दूध में मैश करके बनाना शेक बनाया जा सकता है

केले को दूध या दही के साथ भी सीधे ही खाया जा सकता है

आयुर्वेदिक औषधियों के साथ-साथ आहार में केले जैसे फलों का सेवन वजन बढ़ाने में बहुत ही कारगर है ऐसा हमने अपनी क्लिनिकल प्रैक्टिस में अक्सर ही पाया है


2. ड्राई फ्रूट्स का सेवन (Dry Fruits for weight gain in hindi)

सूखे मेवे या ड्राई फ्रूट बहुत ही उच्च कैलोरी वाले खाद्य पदार्थ होते हैं 

जिनका सेवन मोटापा बढ़ाने में बहुत ही कारगर सिद्ध होता है इसके लिए काजू, बादाम, अखरोट, किशमिश तथा  मूंगफली इत्यादि का सेवन ज्यादा मात्रा में करना चाहिएमोटा होने के लिए टेबलेट नाम

हाई Calorie value आहार का सेवन वजन को बहुत तेजी से बढ़ाता है ड्राई फ्रूट्स की कैलरी वैल्यू बहुत ज्यादा होती है

बादाम, अखरोट तथा किशमिश को रात को पानी में भिगोकर सुबह खाली पेट इस्तेमाल कर सकते हैं

इसके अलावा इन चीजों को दूध में उबालकर भी उपयोग में ला सकते हैं


3. दूध तथा शहद का सेवन (milk and honey benefits for weight gain in hindi)

आयुर्वेद में बहुत सी ऐसी औषधियां हैं जिनके अनुपान के तौर पर शहद का इस्तेमाल किया जाता है

अगर आप अपना वजन तेजी से बढ़ाना चाहते हैं तो हर रोज रात को एक से डेढ़ गिलास गर्म दूध में दो चम्मच शुद्ध शहद की डालकर पीने की आदत बना ले

ऐसा करने से कुछ ही दिनों में आपका वजन तेजी से बढ़ने लगता है 

यह एक बहुत ही सुप्रसिद्ध आयुर्वेदिक नुस्खा है


4. अंडों का इस्तेमाल (Eggs for weight gain in hindi)

अंडों का सफेद हिस्सा शुद्ध प्रोटीन है तथा जर्दी वाला हिस्सा शुद्ध वसा है

अंडे में प्रोटीन, फैट, कैल्शियम के अलावा अनेक प्रकार के अन्य पोषक तत्व भी मौजूद रहते हैं वजन बढ़ाने के लिए प्रतिदिन चार से पांच अंडों का सेवन किसी भी रूप में करने से बहुत फायदा होता हैमोटा होने के लिए टेबलेट नाम

इसके लिए आप 4 अंडों का आमलेट देसी घी में तैयार करके दिन में एक से दो बार इस्तेमाल कर सकते हैं

अंडे वजन बढ़ाने के लिए बहुत ही कारगर है


5. देसी घी का इस्तेमाल (benefits of desi ghee for weight gain in hindi)

अगर आपका शारीरिक वजन कम है तथा आप उसे हर कीमत पर बढ़ाना चाहते हैं तो बिना देसी घी वजन बढ़ाना संभव नहीं है

  • इसके लिए दिन में एक से दो बार आहार में आलू, गोभी, प्याज इत्यादि के पराठे देसी घी के साथ सेवन करने से वजन बहुत तेजी से बढ़ता है क्योंकि इसमें Calorie Index बहुत ज्यादा होता है

देसी घी के अलावा मक्खन या मलाई इत्यादि का सेवन करना भी ठीक इसी प्रकार फायदा करता है


6. सोयाबीन का इस्तेमाल (soyabean khane ke fayde to gain weight)

प्रोटीन का सबसे अच्छा वेजीटेरियन सोर्स सोयाबीन है

इसलिए अगर आप अपना वजन बढ़ाना चाहते हैं तो ऐसी स्थिति में अपने आहार में सोयाबीन को जरूर शामिल करना चाहिए

इससे आपके शरीर को उच्च मात्रा में प्रोटीन मिलेगा, जिससे वजन बढ़ने के साथ-साथ मांसपेशियों का विकास भी ठीक प्रकार से होगा


वजन बढ़ाने के लिए महत्वपूर्ण सुझाव (weight gain tips in hindi)

इसके लिए आप…

  • कोई भी Meal Skip ना करें
  • अपनी डाइट में हाई कैलोरी वाले फूड जैसे ड्राई फ्रूट्स देसी घी मक्खन मलाई इत्यादि को जरूर शामिल करें
  • कभी-कभी फास्ट फूड जैसे पिज़्ज़ा बर्गर पास्ता इत्यादि का इस्तेमाल भी वजन बढ़ाने के लिए बढ़िया विकल्प है
  • हमेशा खुश तथा स्ट्रेस फ्री लाइफ का आनंद लें
  • 8 से 10 घंटे की नींद जरूर लें
  • खाने को सही प्रकार से चबा चबाकर खाना चाहिए
  • जोगिंग, स्विमिंग, रनिंग जैसी एक्सरसाइज का इस्तेमाल ना ही करें तो अच्छा है
  • वजन बढ़ाने वाले आयुर्वेद सप्लीमेंट्स जरूर प्रयोग करें

इतना सब करने के बावजूद भी अगर वजन ना बढे तो ऐसी स्थिति में मुझसे संपर्क करें


मोटा होने के लिए बेस्ट आयुर्वेदिक पाउडर (Ayurvedic Powder for weight gain)

  • दुबले पतले शरीर को तगड़ा तथा मोटा करने के लिए अनेक प्रकार के शुद्ध आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों से तैयार किए गए पाउडर मार्केट में तथा ऑनलाइन उपलब्ध है
  • किसी भी बढ़िया कंपनी के पाउडर को चुनकर आप इसका इस्तेमाल कर सकते हैं ऐसा करने से कुछ ही दिनों में शरीर का वजन बढ़ने लगेगा पिचकी हुई गालें फूल जाएंगी

यह पाउडर सेवन करने में बिल्कुल सुरक्षित होते हैं तथा इनका किसी भी प्रकार का कोई भी दुष्प्रभाव नहीं होता, परंतु फिर भी इस्तेमाल से पहले आयुर्वेदिक चिकित्सक से परामर्श कर लेना जरूरी है ताकि जो परिणाम हम चाहते हैं वह सही तरीके से मिल सके

वजन बढ़ाने के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले प्रमुख आयुर्वेदिक पाउडर इस प्रकार हैं जैसे कि…

अश्वगंधा पाउडर (ashwagandha powder for weight gain)

यह पाउडर अश्वगंधा जड़ी बूटी की जड़ों को सुखाकर कूट पीसकर पाउडर के रूप में तैयार किया जाता है

आयुर्वेद में अश्वगंधा चूर्ण वजन बढ़ाने के साथ-साथ शरीर की सातों धातुओं जैसे रस, रक्त, मांस, मेद, अस्थि, मज्जा तथा शुक्र की भी पुष्टि करता हैमोटा होने के लिए टेबलेट नाम

किसी भी बढ़िया कंपनी का जैसे पतंजलि, बैद्यनाथ, डाबर या व्यास इत्यादि का अश्वगंधा चूर्ण वजन बढ़ाने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है

मात्रा 

  • 5 से 10 ग्राम की मात्रा में अपनी प्रकृति अनुसार दिन में एक से दो बार हल्के गर्म दूध के साथ नियमित रूप से सेवन करने से कुछ ही दिनों में वजन बढ़ने लगता है

शतावरी चूर्ण shatavari powder benefits for weight gain in hindi)

आयुर्वेदिक जड़ी बूटी शतावरी का इस्तेमाल स्त्रियों में होने वाले रोगों के इलाज के लिए आयुर्वेद में प्रमुख रूप से किया जाता है परंतु अगर आप अपना वजन बढ़ाना चाहते हैं तो ऐसे में शतावरी चूर्ण का इस्तेमाल बहुत लाभदायक हैमोटा होने के लिए टेबलेट नाम

मात्रा 

इसकी 3 से 5 ग्राम की मात्रा दिन में दो बार हल्के गर्म दूध के साथ सेवन करनी चाहिए


सफेद मूसली चूर्ण (safed musli benefits for weight gain in hindi)

  • इस जड़ी बूटी का हमारी सेहत को स्वस्थ तथा रोग मुक्त बनाने में बहुत योगदान है
  • सफेद मूसली के चूर्ण का इस्तेमाल शुक्राणुओं की कमी को पूरा करता है वीर्य को गाढ़ा करता है शरीर का कम हुआ वजन बढ़ाता है इसलिए आप इसका सेवन प्रतिदिन कर सकते हैं

मात्रा 

3 से 5 ग्राम की मात्रा में दिन में एक से दो बार हल्के गर्म दूध के साथ नियमित रूप से 4 से 6 सप्ताह तक लगातार प्रयोग करना चाहिए


मुलेठी का चूर्ण (mulethi powder benefits for weight gain)

  • आयुर्वेद में मुलेठी को शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है

परंतु नियमित रूप से मुलेठी पाउडर का इस्तेमाल वजन बढ़ाने में भी बहुत सहायक है यह शारीरिक कमजोरी को दूर करने में पूरा मददगार है


क्रौंच बीज चूर्ण (क्रौंच बीज चूर्ण के फायदे in weight gain)

  • इस जड़ी बूटी को आयुर्वेदिक चिकित्सा में वाज़ीकर ग्रुप में शामिल किया गया है

वाज़ी का अर्थ घोड़े से है अर्थात ऐसी जड़ी बूटियां जिनका सेवन करने से शरीर में घोड़े जैसी ताकत उत्पन्न हो जाए उसे वाज़ीकर कहते हैं क्रौंच बीज चूर्ण का नियमित इस्तेमाल सेक्सुअल हेल्थ को भी Improve करता है इसके साथ साथ वजन बढ़ाने में भी बहुत कारगर है

मात्रा 

2 से 3 ग्राम दिन में एक से दो बार अपनी प्रकृति अनुसार हल्के गर्म दूध के साथ नियमित रूप से सेवन कर सकते हैं


वजन बढ़ाने की दवा in Homeopathy

१. GENTIANA LUTEA Q 

भूख बढ़ाने के लिए होम्योपैथिक चिकित्सा पद्धति में प्रयोग की जाने वाली बहुत ही प्रसिद्ध दवा है इसके सेवन करने से कुछ ही दिनों में भूख के लक्षणों में बहुत सुधार होता है

Anorexia Nervosa अर्थात एक ऐसी शारीरिक समस्या जिसमें भूख बिल्कुल नहीं लगती है जो लोग इस समस्या से ग्रसित है

उनका शारीरिक वजन धीरे धीरे कम हो जाता है एनोरेक्सिया नर्वोसा से पीड़ित व्यक्तियों के लिए यह होम्योपैथिक दवा बहुत ही फायदेमंद है

मात्रा 

  • पांच बूंद सुबह तथा पांच बूंद शाम को आधे से एक कप हल्के गुनगुने पानी में डालकर खाना खाने से कम से कम आधा घंटा पहले सेवन करनी है

GENTIANA LUTEA Q का मदर टिंक्चर मार्केट में उपलब्ध है आप इसे किसी भी बढ़िया होम्योपैथिक मेडिकल स्टोर से खरीद सकते हैं

इस दवा का सेवन हमेशा खाली पेट करना चाहिए

२. 5 PHOS 6X 

वजन बढ़ाने के लिए बहुत ही बढ़िया होम्योपैथिक दवा है अपने आप में कंप्लीट फूड प्रोडक्ट है किसी भी प्रकार का कोई भी दुष्प्रभाव नहीं हैनियमित रूप से अगर सेवन की जाए तो लाभ अवश्य मिलता है किसी भी बढ़िया मेडिकल स्टोर या होम्योपैथिक स्टोर से आप इसे खरीद सकते हैं

मात्रा 

  • 4 टेबलेट सुबह तथा 4 टेबलेट शाम को चूस के लेनी है

इस दवा को पानी से लेने की कोई जरूरत नहीं होती है क्योंकि इसका स्वाद कड़वा नहीं है

इस दवा का सेवन खाना खाने से कम से कम आधा घंटा पहले करना चाहिए

Alfalfa Malt/ALFAMALT FORTE-

दुबलेपन को दूर करने के लिए तथा शरीर में जरूरी पोषक तत्वों की कमी को पूरा करने के लिए अपने आप में संपूर्ण फूड प्रोडक्ट अल्फाल्फा माल्ट होम्योपैथिक चिकित्सा पद्धति में इस्तेमाल की जाने वाली बहुत ही कारगर औषधि है

इस सप्लीमेंट का नियमित रूप से प्रयोग करने पर कुछ ही दिनों में शरीर का वजन बढ़ने लगता है

  • चेहरे पर निखार आने लगता है त्वचा ग्लो करने लगती है इस सप्लीमेंट के सेवन के दौरान सही आहार का सेवन करना भी बहुत जरूरी है
  • छोटे बच्चों से लेकर बूढ़ों तक कोई भी व्यक्ति बेफिक्र होकर अल्फाल्फा माल्ट का प्रयोग कर सकता है

वजन बढ़ाने के लिए ज्यादा लाभ अगर आप लेना चाहते हैं तो ऐसी स्थिति में अल्फाल्फा माल्ट के साथ ऊपर दी गई दो अन्य प्रकार की होम्योपैथिक औषधियों का सेवन भी इसके साथ करना चाहिए

इन तीन होम्योपैथिक दवा का सेवन कम से कम 6 से 8 महीनों के लिए करने से वजन बढ़ाने में अद्भुत लाभ होता है

इसके साथ साथ उच्च कैलरी आहार का सेवन करना भी अति जरूरी है

मात्रा 

अल्फाल्फा माल्ट का एक चम्मच सुबह तथा एक चम्मच शाम को हल्के गर्म दूध के साथ खाना खाने से कम से कम आधा घंटा पहले प्रयोग किया जाना चाहिए

नोट 

  • शारीरिक वजन बढ़ाने के लिए इन होम्योपैथिक सप्लीमेंट तथा औषधियों का सेवन आप किसी भी होम्योपैथिक चिकित्सक की सलाह अनुसार अगर करते हैं तो ऐसी स्थिति में लाभ ओर भी बढ़ जाता है

यह होम्योपैथिक दवाएं तथा सप्लीमेंट किसी भी बढ़िया कंपनी जैसे SBL इत्यादि की प्रयोग की जा सकती है


दुबले पतले शरीर का वजन कैसे बढ़ाएं? (बेस्ट घरेलू नुस्खा for weight gain)

सामग्री

  • एक गिलास शुद्ध भैंस का दूध
  • सफेद तिल पाउडर
  • 3 से 5 खजूर
  • एक चम्मच मिश्री पाउडर
  • दो केले

विधि

  • एक गिलास कच्चे शुद्ध भैंस के दूध में दो से तीन ताजे खजूर डालकर हल्की आंच पर गर्म करें
  • दूध थोड़ा गर्म होने पर उसमें एक चम्मच लगभग 5 से 10 ग्राम की मात्रा में सफेद तिल के पाउडर को मिला दे
  • आवश्यकतानुसार एक से दो चम्मच मिश्री पाउडर उसमें डाल दें
  • जब दूध थोड़ा उबल जाए तो उसे चूल्हे से उतारकर हल्के गर्म रूप में दिन में दो बार सेवन करें
  • इसके साथ साथ दो केले सुबह तथा दो केले शाम को खाएं
  • इस नुस्खे को सेवन करने से मात्र 1 महीने में ही 4 से 6 किलोग्राम तक वजन बढ़ सकता है
  • कम वजन, दुबलेपन तथा पिचके हुए गाल से छुटकारा पाने का बहुत ही जबरदस्त घरेलु उपाय है

इस नुस्खे को सेवन करने से शरीर को पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, वसा, कैल्शियम, मैग्नीशियम, फास्फोरस, मोनू अनसैचुरेटेड फैटी एसिड्स भरपूर मात्रा में प्राप्त होते हैं 

इससे हड्डियां मजबूत होती हैं शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता का विकास होता है


मोटा होने की अंग्रेजी दवा

शारीरक वज़न बढाने के लिए तथा दुबलेपन का इलाज करने के लिए आयुर्वेद, होम्योपैथी के अलावा आधुनिक चिकित्सा विज्ञान यानी एलोपैथी चिकित्सा पद्धति में भी अनेक प्रकार की ऐसी दवाएं मौजूद हैं जिनका इस्तेमाल करने से कुछ ही दिनों में वजन बढ़ने लगता है कमजोरी दूर होने लगती है परंतु अंग्रेजी दवाइयों का सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर से परामर्श करना बहुत जरूरी है क्योंकि ऐसी दवाइयों के कई प्रकार के दुष्प्रभाव शरीर में हो सकते हैं

वजन बढ़ाने के लिए मुख्य रूप से इस्तेमाल की जाने वाली अंग्रेजी दवाओं के नाम इस प्रकार हैं जैसे कि…

१. सिपरोहेप्टएडिन (cyproheptadine tablet uses in hindi)

  • भूख बढ़ाने के लिए सबसे ज्यादा प्रयोग की जाने वाली अंग्रेजी दवा है 4 मिलीग्राम की टेबलेट के रूप में उपलब्ध है
  • मुख्य रूप से एंटी एलर्जी की दवा के तौर पर प्रयोग की जाती है
  • भूख की कमी से जूझ रहे बच्चों से लेकर बुजुर्ग व्यक्ति तक इस दवा का इस्तेमाल अपने डॉक्टर की सलाह से कर सकते हैं

२. ऑक्सीमेथेलॉन (Oxymetholone)

  • यह दवा एक प्रकार की स्टेरॉयड दवा है जिसका प्रयोग करने से शरीर का वजन बढ़ाया जा सकता है
  • परंतु इसके कई प्रकार के दुष्प्रभाव शरीर में हो सकते हैं इसलिए ज्यादा बेहतर है कि आप अपनी मर्जी से इस दवा का इस्तेमाल ना करें

३. ड्रॉणाबिनोल (Dronabinol)

  • वजन बढ़ाने तथा मोटे होने की अंग्रेजी दवा Dronabinol काफी असरदार मेडिसन है इसका सेवन करने से भूख के लक्षणों में बहुत सुधार होता है
  • 2.5 मिलीग्राम की मात्रा पूरे दिन में दो बार सेवन की जा सकती है
  • बिना डॉक्टरी सलाह इस दवा का इस्तेमाल करने से ब्लड प्रेशर का बढ़ना, यादाश्त कमजोर होना या मिर्गी जैसी समस्या हो सकती है

४. Oxandrolone 

  • यह भी स्टेरॉयड मेडिसन है इसका सेवन करने से वजन बढ़ सकता है परंतु कई प्रकार के दुष्प्रभाव शरीर में हो सकते हैं

विशेष ध्यान दें

  • कृपया किसी भी ऊपर लिखी अंग्रेजी दवा का सेवन वजन बढ़ाने के लिए बिना डॉक्टरी सलाह बिल्कुल भी अपनी मर्जी से ना करें अन्यथा कई प्रकार के गंभीर दुष्परिणाम शरीर में हो सकते हैं हमेशा इस बात का ध्यान रखें

निष्कर्ष (मोटा होने के लिए टेबलेट नाम)

शरीर का वजन बढ़ाने के लिए मूल रूप से सबसे जरूरी दो चीजें हैं…

  1. भूख का सही प्रकार से लगना
  2. खाया पिया आहार शरीर को लगना

ज्यादातर लोग जिनका शारीरिक वजन जरूरत से कम होता है या तो उन्हें भूख सही से नहीं लगती है जिस कारण पर्याप्त मात्रा में उच्च कैलरी युक्त आहार शरीर में पहुंच ही नहीं पाता, तो ऐसी स्थिति में वजन का बढ़ना नामुमकिन है

दूसरी स्थिति जब किसी व्यक्ति को भूख तो खूब लगती है परंतु उसका खाया हुआ आहार शरीर को नहीं लगता है तो ऐसी स्थिति में भी वजन का बढ़ना बहुत मुश्किल है

  • ऊपर दी गई आयुर्वेदिक औषधियां वजन को बढ़ाने में बहुत ही मददगार हैं
  • इनके सेवन से जिन व्यक्तियों को भूख नहीं लगती है उन्हें भूख लगने लगती है तथा जिन व्यक्तियों को खाया पिया नहीं लगता है ऐसे व्यक्तियों मे आहार सही रूप से अवशोषित होने लगता है जिससे मात्र कुछ दिनों में ही वजन बढ़ने लगता है

मोटे होने के लिए बेस्ट आयुर्वेदिक टेबलेट तथा कैप्सूल के नाम मैंने ऊपर बता दिए हैं कृपया इस आर्टिकल को ध्यान से पढ़ कर इसका लाभ उठाएं


अस्वीकरण (मोटा होने के लिए टेबलेट नाम)

इस लेख की सामग्री व्यावसायिक चिकित्सा सलाह (professional medical advice), निदान (diagnosis) या उपचार (ट्रीटमेंट) के विकल्प के रूप में नहीं है।

  • चिकित्सीय स्थिति के बारे में किसी भी प्रश्न के लिए हमेशा चिकित्सीय (doctor कंसल्टेशन) सलाह लें।

उचित चिकित्सा पर्यवेक्षण (without proper medical supervision) के बिना अपने आप को, अपने बच्चे को, या किसी और का  इलाज करने का प्रयास न करें।


image creditधन्यवाद to www.pixabay.com इतनी प्यारी images के लिए

इसे भी पढ़ें– “टाइफाइड की जांच in हिंदी”

Information Compiled- by Dr. Vishal Goyal

Bachelor in Ayurvedic Medicine and Surgery

Post Graduate in Alternative Medicine MD (AM)

Email ID- [email protected]

WHATSAPP- 09855262699 किसी भी सवाल के लिए लिखें

Owns Goyal Skin and General Hospital, Giddarbaha, Muktsar, Punjabwriter-

“मोटा होने के लिए Best Ayurvedic टेबलेट | कैप्सूल्स | चूर्ण के नाम | Weight Gain Tips in Hindi पढने के लिए धन्यवाद…

कृपया इन आर्टिकल्स को भी पढ़े–

१.”कमरदर्द का रामबाण इलाज़ हिन्दी में

२.”कब्ज़ के कारण, लक्षण व् इलाज़ हिन्दी में

३.”लिव 52 टेबलेट के सभी फायदे

४.”बढे हुए sgot तथा sgpt को कम करने के उपाए

 

1 thought on “मोटा होने के लिए Best Ayurvedic टेबलेट | कैप्सूल्स | चूर्ण के नाम | Weight Gain Tips in Hindi”

Leave a Comment

Your email address will not be published.

hello
%d bloggers like this: